Madhyamik Hindi 2016 Suggestive Question Paper | Hindi Suggestion 2016 | EdwisE Coaching Classes

MADHYAMIK HINDI SUGGESTION (90 MARKS)

1. किन्हीं दो प्रश्नों के उत्तर दीजिए। (प्रत्येक उत्तर अधिकतम तीन वाक्यों में):- 2x2=4
(क) कल-कल ध्वनि से है कहती कुछ विस्मृत बीती बातें।’- इस कथन से कवि का क्या तात्पर्य है?
(ख) नहीं नहीं प्रभु तुमसे शक्ति नहीं माँगूँगा – रचनाकार का नाम लिखिए। वक्ता अपने लिए शक्ति क्यों नहीं मांगना चाहता है?
(ग) कवि सेनापति जी ने बसंत को ऋतुराज क्यों कहा है?
(घ) भिक्षुक के साथ कौन हैं और वे करते हुए चलते हैं?
2. किन्हीं दो प्रश्नों के उत्तर दो । (प्रत्येक उत्तर अधिकतम छः वाक्यों में):- 5x2=10


(क) “धूम नैनन बहै, लोग आगि पर गिरे रहे ।
       हिए सौ लगाए रहे, नेक सुलगाइ कै ॥”
(i) प्रस्तुत अंश किस कवि की रचना का अंश है? यह किस भाषा में रचित है?
(ii) पंक्तियों की सप्रसंग व्याख्या करो। (2+3=5)
(ख) “अति अगाधु अति औथरो, नदी, कूप, सरु, बाइ ।
       सो ताको सागरु जहां, जाकी प्यास बुझाई ॥”
(i) प्रस्तुत अंश किस पाठ से लिया गया है? इसके कवि कौन है? (ii)  इसका भाव स्पष्ट करो।                                                                                                                       (2+3)
(ग) “यह सब करना किन्तु, बहुत धीरे से आना।
       यह है शोक स्थान, यहाँ मत शोर मचाना ॥”
(i) यह अंश किस कविता का है? (ii) कवि ने इस स्थान को शोक स्थान क्यों कहा है स्पष्ट करो। (1+4)
(घ) “बस गई एक बस्ती है, स्मृतियों की इसी हृदय में ।
   नक्षत्र लोक फैला है, जैसे इस निलय में॥ ”
(i) यह किस कवि की किस रचना से उद्धृत है? (ii) इसमें निहित अर्थ को स्पष्ट कीजिए। (2+3)
3. किसी एक प्रश्न का उत्तर दीजिए। (अनधिक बीस वाक्यों में) :- 9x1=9
(क) जलियाँवाला बाग़ में बसंत कविता में निहित मार्मिकता को स्पष्ट करते हुए इसका सारांश लिखो।   
(ख) आँसू कविता में व्यक्त  कवि कि विरह-वेदना अपने शब्दों में लिखो।

(ग) मैं तुम लोगों से दूर हूँ कविता में व्यक्त कवि के सामाजिक चेतना को अपने शब्दों में लिखो। 

Post a comment

0 Comments